संविधान के किस संशोधन ने मौलिक अधिकारों की अपेक्षा राज्य नीति के निदेशक सिद्धांतों को अधिक महत्वपूर्ण बना दिया है?

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

(A) 42 वें
(B) 44 वें
(C) 52 वें
(D) 56 वें

Ans: [A] 42 वें

व्याख्या: संविधान के 42 वें संशोधन ने मौलिक अधिकारों की अपेक्षा राज्य नीति के निदेशक सिद्धांतों को अधिक महत्वपूर्ण बना दिया है। संविधान (42 वें संशोधन) अधिनियम, 1976 के द्वारा संविधान में निम्नलिखित परिवर्तन किये गये   (i) संविधान की प्रस्तावना में ‘पंथ निरपेक्ष, समाजवादी तथा अखण्डता’ शब्दों को जोड़ा गया। (ii) अनुच्छेद 31-ग जोड़कर यह प्रावधान किया गया कि नीति निदेशक सकता तत्वों को है। प्रभावी करने के लिए मूलाधिकार में संशोधन किया जा (iii) भाग 4-क तथा अनुच्छेद 51-क जोड़कर नागरिकों के 10 मूल कर्तव्यों का उल्लेख किया गया। (iv) लोकसभा तथा विधान सभाओं के कार्यकाल में एक वर्ष की वृद्धि की गयी। (v) संसद द्वारा किए गए संविधान संशोधन को न्यायालय में चुनौती देने से वर्जित कर दिया गया। (vi) केन्द्र को यह अधिकार दिया गया है कि वह जब चाहे, तब राज्यों में केन्द्रीय सुरक्षा बलों को तैनात कर सकता है। (vii) संसद को यह अधिकार दिया गया है कि वह यह निर्धारण कर सकती है कि कौन-सा पद लाभ का पद है। (viii) यह प्रावधान किया गया कि संसद और राज्य विधान मण्डलों के लिए गणपूर्ति आवश्यक नहीं है।

www.gkwiki.in

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now