निम्नलिखित में से कौन सा कथन भारत के संविधान की प्रस्तावना की ‘समाजवादी’ विशेषता को सर्वोत्तम रूप से दर्शाता है?

(A) नागरिक अपने विचार कैसे व्यक्त करते हैं, इस पर कोई अनुचित प्रतिबंध नहीं है
(B) पारंपरिक सामाजिक असमानताओं को समाप्त करना होगा
(C) सरकार को सामाजिक-आर्थिक असमानताओं को कम करने के लिए भूमि और उद्योग के स्वामित्व को विनियमित करना चाहिए
(D) किसी को भी अपने साथी नागरिक को हीन नहीं मानना ​​चाहिए

उत्तर- [3] सामाजिक आर्थिक असमानताओं को कम करने के लिए सरकार को भूमि और उद्योग के स्वामित्व को विनियमित करना चाहिए

व्याख्या : सरकार को सामाजिक-आर्थिक असमानताओं को कम करने के लिए भूमि और उद्योग के स्वामित्व को विनियमित करना चाहिए. भारतीय संविधान की प्रस्तावना के अनुसार सामाजिक-आर्थिक अंतर या असमानताओं को दूर करने के लिए सरकारी अधिकारियों के अधीन भूमि और उद्योगों को झील में डालने के लिए नियम और कानून बनाए गए हैं। सभी की मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति तथा समान कार्य के लिए समान वेतन का प्रावधान किया गया है।