निम्नलिखित में किसने और कब, पहली बार अशोक के शिलालेखों का अर्थ स्पष्ट किया था?

[1] 1787 -जॉन टॉवर
[2] 1825-चार्ल्स मेटकॉफ
[3] 1837-जेम्स प्रिंसिप
[4] 1810-हैरी स्मिथ

उत्तर: (3] 1837-जेम्स प्रिंसिप

व्याख्या: जेम्स प्रिंसेप ने 1837 में सर्वप्रथम अशोक के अभिलेखों को पढ़ा था। जेम्स प्रिंसेप अंग्रेज विद्वान तथा पुरातात्विद् था जिसने प्राचीन भारतीय भाषाओं में खरोष्ठी तथा ब्राह्मी लिपियों का अध्ययन किया था भारत के प्राचीन इतिहास का ज्ञाता था। जिसने प्राचीन भारतीय संस्कृति के अन्वेषण और अध्ययन के लिए एशियाटिक सोसायटी की स्थापना 1784 में की थी।

Leave a Comment