निम्न में से किसकी रचना हर्षवर्धन ने नहीं की थी?

[1] हर्ष चरित
[2] रत्नावली
[3] प्रियदर्शिका
[4] नागानंद

उत्तर: (1] हर्ष चरित

व्याख्या: बाणभट्ट हर्ष के दरबारी कवि थे। जिन्होंने हर्ष चरित तथा कादम्बरी की रचना की। हर्षवर्धन स्वयं एक उच्चकोटि का विद्वान था। हर्ष को संस्कृत के तीन नाटक ग्रन्थों का रचयिता माना जाता है-प्रिय दर्शिका, रत्नावली तथा नागानन्द।

Leave a Comment