“महाभारत” का प्रारंभिक नाम क्या था?

[1] कथासरितसागर
[2] जय संहिता
[3] राजतरंगिणी
[4] भारत कथा

उत्तर: (2] जय संहिता

व्याख्या: महाभारत का मूल नाम ‘जय संहिता’ था, यह नाम वेद व्यास द्वारा रखा गया था। आरंभ में इसमें केवल 8,800 श्लोक थे और गणेश द्वारा लिखित श्लोकों का मूल नाम ‘जय’ था। बाद में कई कहानियों को जोड़कर पुस्तक के श्लोकों की कुल संख्या 100,000 हो गईं, जिन्हें पूरा करने में कई शताब्दियाँ बीत गईं और अन्त में पुस्तक का नाम ‘महाभारत’ रखा गया।

Leave a Comment