किस स्थान पर नवपाषाण स्तर पर गेहूँ एवं जौ की खेती के सर्वप्रथम प्रमाण मिलते हैं?

(a) रंगपुर
(b) लोथल
(c) मेहरगढ़
(d) कोलडिहवा

Ans: [c) मेहरगढ़

व्याख्या: सिन्ध और बलूचिस्तान की सीमा पर कच्ची का मैदान में बोलन नदी के किनारे मेहरगढ़ नामक स्थल से कृषि का पहला स्पष्ट साक्ष्य प्राप्त हुआ है। इस स्थल का उत्खनन 1974 ई. से प्रारम्भ हुआ। लगभग ईसा पूर्व 7000 के आसपास कृषिजन्य और जौ की विभिन्न किस्में प्राप्त हुई हैं। मेहरगढ़ से पाषाण संस्कृति से लेकर हड़प्पा सभ्यता तक के सांस्कृतिक अवशेष प्राप्त हुए है। नवीनतम शोधों के अनुसार भारतीय उपमहाद्वीप में कृषि का प्राचीनतम् साक्ष्य उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर जिले में स्थित लहुरादेव से प्राप्त होता है जहाँ से 9000 ई.पू. से 8000 ई.पू. के मध्य के चावल के साक्ष्य प्राप्त हुए हैं।

Leave a Comment