निम्नलिखित में से किस निर्णय में कहा गया है कि ‘धर्मनिरपेक्षवाद’ और ‘संघवाद’ भारतीय संविधान की मूल विशिष्टताएँ हैं?

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

(A) केशवानन्द भारती मामला 
(B) एस. आर. बोम्मई मामला 
(C) इन्दिरा साहनी मामला 
(D) मिनर्वा मिल्स मामला 

Ans: [B] एस. आर. बोम्मई मामला 

व्याख्या: एस. आर. बोम्मई बनाम भारतीय संघ मामले में न्यायमूर्ति सावंत और कुलदीप सिंह ने अवलोकन किया कि संघवाद और धर्मनिरपेक्षवाद हमारे संविधान के मुख्य लक्षणों में से एक थे और बुनियादी ढाँचे का हिस्सा थे। इस मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने भारतीय संविधान की धारा 356 के विभिन्न प्रावधानों पर विस्तृत चर्चा की।

www.gkwiki.in

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now