कौन सा बौद्ध ग्रंथ 16 महाजनपदों का उल्लेख करता है?

[1] दीघ निकाय
[2] सुत्त पिटक
[3] अंगुत्तर निकाय
[4] विनय पिटक

उत्तर: (3] अंगुत्तर निकाय

व्याख्या: उत्तर-वैदिक काल में पूरे उत्तरी क्षेत्र में ज्यादातर विंध्य के उत्तर स्थित और उत्तर-पश्चिम सीमा से बिहार तक फैले हुए सोलह महाजनपदों को सोलह राज्यों में विभाजित किया गया था। बौद्ध साहित्य विशेषकर अंगुत्तर निकाय, सोलह महाजनपदों को सूचीबद्ध करता है- गांधार, कम्बोज, अस्साका, वत्स, अवंती, सूरसेन, चेदि, मल्ल, कुरु, पंचाल, मत्स्य, वज्जि, काशी, अंग, कौशल और मगध।

Leave a Comment