जैनधर्म तथा बौद्धधर्म दोनों ही किसमें विश्वास नहीं करते हैं?

[1] यज्ञ
[2] मुक्ति
[3] जाति व्यवस्था
[4] कर्मकांड

उत्तर: (3] जाति व्यवस्था

व्याख्या: जैनधर्म तथा बौद्ध धर्म ने ब्राह्मणों की सामाजिक उत्कृष्टता को स्पष्ट रूप से चुनौती दी तथा उनके दो मूलभूत सिद्धांतों यज्ञीय कर्मकाण्ड तथा जातिवाद का खुलकर विरोध किया। परन्तु गौतम बुद्ध ने सामाजिक कुरीतियों का जितना प्रबल खण्डन किया महावीर ने नहीं। सामाजिक विषयों में महावीर का विचार ब्राह्मणों से बहुत कुछ मिलते-जुलते थे।

Leave a Comment