भारत सरकार के प्रतीक में कौन मौर्य वंश से अपनाया नहीं गया था?

[1] सत्यमेव जयते
[2] सांड
[3] घोड़ा
[4] चार शेर

उत्तर: (1] सत्यमेव जयते

व्याख्या: महान सम्राट अशोक द्वारा 250 ईसा पूर्व में सारनाथ में बनवाया गया यह स्तंभ दुनिया भर में प्रसिद्ध है, इसे अशोक स्तंभ के नाम से भी जाना जाता है। इस स्तंभ में चार शेर एक दूसरे से पीठ से पीठ सटा कर बैठे हुए हैं। यह स्तंभ सारनाथ के संग्रहालय में रखा हुआ है। भारत ने इस स्तंभ को अपने राष्ट्रीय प्रतीक के रूप में अपनाया है तथा स्तंभ के निचले भाग पर स्थित अशोक चक्र को तिरंगें के मध्य में रखा है। इस स्तंभ पर तीन लेख उल्लिखित हैं। पहला लेख अशोक कालीन ब्राह्मी लिपि में है जिसमें सम्राट ने आदेश दिया है कि जो भिक्षु या भिक्षुणी संघ में फूट डालेंगे और संघ की निंदा करेंगे: उन्हें सफेद कपड़े पहनाकर संघ के बाहर निकाल दिया जाएगा। दूसरा लेख कुषाण-काल का है। तीसरा लेख गुप्त काल का है, जिसमें सम्मिलित शाखा के आचार्यों का उल्लेख किया गया है। ‘सत्यमेव जयते’ प्राचीन भारतीय ग्रंथ मुंडक उपनिषद से किया गया एक मंत्र है।

Leave a Comment