भारत के संविधान की प्रस्तावना में ‘न्याय’ शब्द का उल्लेख व्यक्त करता है?

(A) सामाजिक, राजनीतिक और धार्मिक न्याय
(B) सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक न्याय
(C) सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय
(D) आर्थिक और राजनीतिक न्याय

उत्तर- [3] सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय

व्याख्या : भारत के संविधान की प्रस्तावना में विश्व ‘न्याय’ का उल्लेख सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय को व्यक्त करता है। भारत में आपातकाल, 7976 के दौरान अब तक प्रस्तावना में केवल एक बार संशोधन किया गया है।